भारत के बारे में रूढ़ियाँ

आज के समाज में स्टीरियोटाइप की अवधारणा अधिक से अधिक महत्व प्राप्त कर रही है। हम उनसे घिरे रहते हैं, वो खुद को दोहराते हैं...